अक्षर पटेल [ Akshar Patel Biography In Hindi]

15

 अक्षर पटेल एक भारतीय क्रिकेटर है । इन्होंने टीम इंडिया में कई इंटरनेशनल मैच भी खेले हैं तथा इन्हे आईपीएल ( इंडियन परीमियर लीग) में खेलते देख सकते हैं ।

प्रारंभिक जीवन

अक्षर पटेल का जन्म 20 जनवरी 1994 को गुजरात के आणंद में हुआ था। उनके पिता का नाम राजेशभाई पटेल है । उनकी माता प्रितीबेन पटेल, बड़े भाई संशीप पटेल तथा दीदी का नाम शिवांगी पटेल है । वे पढ़ाई – लिखाई में काफी अच्छे थे उनके पिता चाहते थे कि अक्षर पटेल एक इंजिनियर बनें । इन्होंने धर्मसिंह देसाई यूनिवर्सिटी, गुजरात से इंजीनियरिंग के दौरान ड्रॉपआउट ले लिया और क्रिकेट में आ गए ।

अक्षर की रुचि कभी क्रिकेट में था ही नहीं वे एक इंजिनियर बनना चाहते थे । मगर वे क्रिकेट में आ गए । जब वे क्रिकेट खेलना सुरु किए थे तब उन्हें बैटिंग करने में बहुत रुचि थी मगर कोच के कहने पर उन्होंने गेंदबाजी करनी चालू कर दी और बाद में गेंदबाजी करना भी पसंद आने लगा । 

क्रिकेट कैरियर 

अक्षर पटेल ने अपने क्रिकेट कैरियर की शुरुवात एक बाएं हाथ के स्पिनर गेंदबाज के रूप में नवंबर 2012 में विजय हजारे कप तथा रणजी ट्राफी से की थी, तब वे 18 साल के थे । वे टीम गुजरात के एक अच्छे प्लेयर थे गेंदबाजी और बल्लेबाजी दोनों में उन्होंने अच्छा प्रदर्शन दिखाया था। उन्होंने रणजी ट्राफी में 46.12 के एवरेज से 369 रन बनाए तथा 7 मैच में 23.58 के इकोनोमिक रेट से 29 विकेट चटकाए । वे एक अच्छे गेंदबाज थे इस कारण से वे जल्दी ही लोगों के नजर में आ गए । वे अच्छी गेंदबाजी के साथ साथ बैटिंग से भी अच्छे रन बटोर लेते थे इस कारण से उनके कैरियर के लिए यह बहुत अच्छा साबित हुआ ।

उनकी अच्छी परफॉर्मेंस के देखते हुए आईपीएल में उनका चयन हो गया । उन्हें मुंबई इंडियंस की टीम ने 2013 में खरीदा लेकिन उन्हें उतना मौका नहीं मिला जिस कारण से इस सीजन उनकी परफॉर्मेंस देखने को नहीं मिली । इन्हे बाद में पंजाब ने खरीद लिया जहां ये अच्छे चमके और इनकी परफॉर्मेंस भी काफी अच्छी थी । 

इसी परफॉर्मेंस के कारण 2014 में इनकी अच्छी परफॉर्मेंस के कारण इन्हें टीम इंडिया में बांग्लादेश दौरे के लिए सामिल कर लिया गया को अपने आप में एक बहुत बड़ी बात है । इंटरनेशनल मैचों में भी इन्होंने अपनी भूमिका बखूबी निभाई और जहां कुछ लोग ही इन्हे पहचानते थे आज पूरा भारत इन्हे पहचानने लगा । इसके बाद उन्हें 5 मैच की श्रृंखला के लिए श्रीलंका दौरे में भी सामिल किया गया और यहां भी इन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया । इस श्रीलंका दौरे में उन्होंने 11 विकेट लिए और 178 के स्ट्राइक रेट से 31 रन बनाए ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here